विज्ञान और मापन
Science And Measurement


Bharti Bhawan Physics 9 chapter 1 Science and measurement
आप यहां तक नवम वर्ग के भौतिक (9th physics )विज्ञान के प्रश्नों के उत्तर(Question answer of science) को जानने के लिए पहुंचे हैं। हम जानते हैं कि आजकल विद्यार्थियों की समस्या विज्ञान के प्रश्न उत्तर ( Question answer of science) की है, इसलिए मैं भारती भवन के पुस्तक की सभी अध्यायों के प्रश्न उत्तर( Question answer) को लेकर के यहां पर प्रस्तुत हूं। अगर आप लोग इससे संतुष्ट हैं तो कृपया करके अपने दोस्तों में शेयर करें और जो जो चीज आप लोगों को इसमें नहीं दी गई है उसे कमेंट में लिखें ताकि हम आप लोगों का भरपूर सहयोग कर सकें। आपको याद रहे कि आप वर्ग 9 के भौतिक (9th class physics) विज्ञान के प्रश्न उत्तर(Question answer of science) के लिए यहां तक पहुंचे हैं तो आप नीचे दिए गए लिंक पर जाकर भौतिक (physics notes) विज्ञान के प्रश्नोत्तर (Question answer) को लिख और पढ़ सकते हैं नवम् वर्ग के भौतिक पाठ 1 (physics 9th class chapter 1) (physics class 9 chapter 1) (chapter 1 physics class 9)
अतिलघु उत्तरीय प्रश्न
Short Questions And Answers

मिलती-जुलती खोज

Measurement Class 9 PDF

Measurement chapter in Physics for Class 9

questions and answers

Measurement Class 9 notes pdf

भौतिक विज्ञान कक्षा 9 PDF

विज्ञान और मापन क्लास नाइंथ

Bihar Board Class 9 भौतिकी

भौतिकी कक्षा 9 अध्याय 1

short answer

very short answer

very short answertype questions

short answer type questions

short question answer class 9 physics


1.विज्ञान क्या है?


 उत्तर -
सावधानीपूर्वक और क्रमबद्ध तरीके से किए गए प्रयोगों और परीक्षणों द्वारा प्राप्त ज्ञान को विज्ञान कहते हैं।

2.भौतिक राशियां कितने प्रकार की होती हैं? उनके नाम लिखें ।


 उत्तर -
भौतिक राशियां निम्नलिखित दो प्रकार की होती हैं ।
(1)आधारी राशि, तथा (2)व्युत्पन्न राशि

3.आधारी राशि किसे कहते हैं?


उत्तर -
वह राशि जो स्वतंत्र मानी जाती हैं आधारी राशि कही जाती है।
जैसे- लंबाई, द्रवमान, समय, आदि ।

4.व्युत्पन्न राशियां क्या है?


 उत्तर -
वे राशियां व्युत्पन्न राशियां हैं जो आधारी राशियों के पदों में व्यक्त की जाती है।
जैसे- क्षेत्रफल ,आयतन, बल, कार्य ,ऊर्जा आदि ।

5.आधारी मात्रक किसे कहते हैं?


 उत्तर -
आधारी मात्रक उसे कहते हैं जो किसी अन्य मात्रक पर निर्भर नहीं करता।

6.मात्रकों की पद्धति से क्या तात्पर्य है ?


उत्तर -
सभी प्रकार को राशियों के लिए मात्रकों के पूरे समूह को मात्रको  की पद्धति कहते हैं ।

7. रेडियन और स्टेरेडियन किनके मात्रक हैं?

 उत्तर -
समतल कोण का मात्रक रेडियन तथा  घन कोण   का मात्रक स्टेरेडियन है ।

8.  1 नैनोमीटर कितने मीटर के बराबर होता है ?

उत्तर -
एक नैनोमीटर 10 -⁹ मीटर  के बराबर होता है ।

9. प्रकाश वर्ष क्या है ?

उत्तर -
एक वर्ष में प्रकाश द्वारा तय की गई दूरी को एक प्रकाश वर्ष कहते हैं।
लघु उत्तरीय प्रश्न 
1.किसी राशि के परिमाण के पूर्ण विवरण के लिए किन बातों का ज्ञान आवश्यक होता है एक उदाहरण देकर समझाएं ।
उत्तर -
किसी राशि के परिमाण के पूर्ण विवरण के लिए निम्नलिखित दो बातों का ज्ञान आवश्यक है -
(1) राशियों को व्यक्त करने के लिए एक उपयुक्त मात्रक
(2) राशियों के परिमाण को व्यक्त करने वाले संख्यात्मक मान
2.आधारी और  व्युत्पन्न राशियां किसे कहते हैं? उनके दो-दो उदाहरण दें ।
उत्तर -
आधारी राशि-
वह राशि जो स्वतंत्र मानी जाती हैं आधारी राशि कही जाती है।
जैसे- लंबाई, द्रवमान, समय, आदि ।
व्युत्पन्न राशि-
वे राशियां व्युत्पन्न राशियां हैं जो आधारी राशियों के पदों में व्यक्त की जाती है।
जैसे- क्षेत्रफल ,आयतन, बल, कार्य ,ऊर्जा आदि ।
3.S.I. मात्रक के गुण लिखें
उत्तर -
(1)यह मात्रकों की अंतर्राष्ट्रीय पद्धति है जिसे प्रत्येक देश में आसानी से समझा जा सकता है। (2)इस पद्धति से ज्यमिति के दो राशि समतल कोण तथा धन कोण  जो भौतिक राशि नहीं है, उनके मापको को भी संपूरक मात्रको  को के रूप में परिभाषित किया जाता है।
4. मापन की अनिश्चितता से  आप क्या समझते हैं ?
उत्तर -
विज्ञान मापन पर आधारित है यदि मापन सही नहीं होता है, तो यह निश्चित होता है। किसी भी राशि के  माप के लिए कुछ मानक मापों   की आवश्यकता होती है। इसी मापक को उस राशि का मात्रक कहते हैं। यदि राशि की माप के लिए कुछ मानक मापी  नहीं होंगे तो उसकी माप  अनिश्चित होती है और उनके मानक भी अनिश्चित होंगे।
दीर्घ उत्तरीय प्रश्न
1. S.I. मात्रक के संकेताक्षरों को लिखते समय ध्यान देने योग्य किन्ही तीन बातों का उदाहरण सहित उल्लेख करें।
 उत्तर -
S.I. मात्रक के संकेताक्षरों को लिखते समय ध्यान देने योग्य निम्नलिखित तीन बातें है -
(1)  अंग्रेजी के अक्षर ही होंगे जैसे किलोग्राम के लिए "किग्रा" या मीटर के लिए "मी" आदि नहीं लिखना चाहिए। उदाहरण- लंबाई का S.I. मात्रक metre होता है इसे संकेताक्षर में "m" लिखेंगे।
(2) मात्रकों के अंग्रेजी नामों को capital letter से प्रारंभ नहीं करना चाहिए अतः 1 ampere  की धारा लिखना सही होगा ना की 1 Ampere की धारा ampere को संकेत में "A"लिखते हैं। मात्रक ग्राम(gram) को संकेत में 'g' लिखना चाहिए
2.मात्रक मीटर के परिभाषित करने के  इतिहास का संक्षेप में वर्णन करें।
उत्तर -
 प्रायः मापों को आधारी या व्युत्पन्न एस आई मात्रा के पदों में व्यक्त करना बहुत सुविधाजनक नहीं होता। उदाहरण के लिए पटना से  दिल्ली की दूरी को मीटर में व्यक्त करना बहुत असुविधाजनक होगा।,इस दूरी के लिए मीटर बहुत छोटा मात्रक है। उसी प्रकार कागज की मोटाई को मीटर में व्यक्त करना चाहे तो भी असुविधा होगी।  कागज की मोटाई को मीटर में व्यक्त करना संभव नहीं है क्योंकि मीटर बहुत ही बड़ा मात्रक है।
3.S.I.मात्रा के किन्ही तीन अधारी मात्रकों की परिभाषा लिखें।
उत्तर -
S.I. मात्रक के तीन मात्रक हैं -
(i)क्षेत्रफल,(ii) आयतन,(iii) घनत्व
(i)   क्षेत्रफल =लम्बाईxचौड़ाई
       क्षेत्रफल का मात्रक 
= लम्बाई का मात्रक x चौड़ाई का मात्रक          = मीटरx मीटर = वर्ग मीटर
                     अतः  क्षेत्रफल का S.I. मात्रक=वर्ग मीटर
  (ii)     आयतन
= लम्बाई xचौड़ाईxऊँचाई

आयतन का मात्रक
= मीटरx मीटरx मीटर
=घन मीटर
अतः आयतन का S.I. मात्रक= घन मीटर
 (iii)  घनत्व का कोई मात्रक नहीं होता है
4. राष्ट्रीय भौतिक प्रयोगशाला के मुख्य उत्तरदायित्व का संक्षेप में उल्लेख करें।
 उत्तर -
राष्ट्रीय भौतिक प्रयोगशाला का उत्तरदायित्व निम्नलिखित है-
 (i) इसका मुख्य उत्तरदायित्व राष्ट्रीय मानकों का रखरखाव है। 
 (ii)परीक्षणों और प्रयोगों द्वारा मानकों का निर्धारण करना।
 (iii) परीक्षणों के आधार पर किसी निष्कर्ष पर पहुंचना। 
 (iv)संभावित कारणों का अनुमान लगाना। 
 (v)घटनाओं का सावधानी पूर्वक परीक्षण करना।
अन्य महत्वपूर्ण प्रश्न 
1.भौतिक विज्ञान किससे संबंधित है ?
उत्तर -
भौतिक विज्ञान का संबंध निर्जीव पदार्थो  और उनके घटनाओं से संबंधित है।
2.मीटर किलोग्राम- सेकंड पद्धति क्या है ?
उत्तर -
जिस पद्धति में लंबाई का मात्रक मीटर, द्रव्यमान का मात्रक किलोग्राम तथा समय का मात्रक सेकंड होता है उस पद्धति को मीटर किलोग्राम- सेकंड (M.K.S.) पद्धति कहते हैं.
3.लंबाई का S.I. मात्रक क्या होता है?
उत्तर - 
लंबाई का ऐसे मात्रक मीटर होता है.।
4.समय का S.I. मात्रक क्या होता है ?
उत्तर -
समय का एस आई मात्रक सेकंड होता है। 
5.विधुत धारा(electric current) का S.I. मात्रक(unite) क्या होता है ?
उत्तर -
विधुत धारा (Electric current) का एस आई(S.I.) मात्रक(unite) एंपियर(ampere) होता है।  इसे A द्वारा सूचित किया जाता है।
6.भौतिक राशियाँ  किसे कहते हैं ? यह कितने प्रकार के होते हैं। 
उत्तर -
भौतिक राशि किसी वस्तु, पदार्थ या परिघटना का गुण है तथा इस गुण को संख्यात्मक(numerical) मान(value) एवं कोई मानक सन्दर्भ प्रदान किया जा सकता है। जैसे- लंबाई (length),द्रवमान(mass),  समय(time), बल(force) ,ऊर्जा(energy), वेग(velocity) आदि.  भौतिक राशियां दो प्रकार की होती हैं 
(i)आधारी राशि (ii)वियुत्पन्न  राशि 
7.फ़ुट पाउंड सेकेंड (f.p.s.)पद्धति क्या है? इस पद्धति(system) को और किस नाम से जाना जाता है। 
उत्तर -
फुट पाउंड सेकंड पद्धति संक्षेप में f.p.s.पद्धति कहते हैं, इस पद्धति में लंबाई का मात्रक फुट, द्रव्यमान का मात्रक पाउंड तथा समय का मात्रक सेकंड होता है इस पद्धति को ब्रिटिश पद्धति भी कहा जाता है।
8.सेंटीमीटर (centimetre) ग्राम (gram) सेकंड (second) पद्धति (system) क्या है ?इस पद्धति (system) को और किस नाम से जाना जाता है.
उत्तर - 
सेंटीमीटर (centimetre) ग्राम (gram) सेकंड (second) पद्धति (system) को संक्षेप में c.g.s. पद्धति कहते हैं इस पद्धति में लंबाई (length) का मात्रक (unite) सैंटीमीटर (centimetre) द्रवमान (mass)  का मात्रा ग्राम (gram) तथा समय (time) का मात्रक (unite) सेकंड (second) होता है ।
9.मात्रक किसे कहते हैं ?
उत्तर -
विज्ञान मापक पर आधारित है. किसी भी राशि को मापने के  लिए कुछ मानक  मापों  की आवश्यकता होती है इसी मानक  को उस राशि का मात्रक कहते हैं।
10.वैज्ञानिक विधि के मुख्य अंग लिखें-
 उत्तर -
वैज्ञानिक विधि के निम्नलिखित पांच मुख्य अंग हैं -
(i) किसी घटनाओं का सावधानीपूर्वक प्रेक्षण करना।
(ii) किसी कारणों का संभावित अनुमान लगाना। 
(iii) किसी कारणों का जांच परीक्षणों  और प्रयोगों द्वारा करना
(iv)  किसी निष्कर्ष पर पहुंचने से पहले जांच करना।
(v) विचारों और सोच में आवश्यकता अनुसार अपरिहार्य परिवर्तन करना ।
11. व्युतपन्न राशि व्युतपन्न मात्रक(unite) को प्राप्त करने के लिए किसकी  सहायता लेते हैं ?
उत्तर -
व्युतपन्न राशि के व्युतपन्न मात्रक  को प्राप्त करने के लिए निम्नलिखित की सहायता लेते हैं -
(i)वह समीकरण जो व्युतपन्न राशि को परिभाषित करने से प्राप्त होता हैं
(ii) समीकरण में आए हुए राशियों के मात्रक